हिन्दी पिक्चर बफ

बीएफ बिहारी हिंदी

बीएफ बिहारी हिंदी, उसने कह तो दिया था ..पर पंडित जी जानते थे की ऐसी हालत में काबू पाकर रखना ज्यादा देर तक मुमकिन नहीं है .. पंडित ने उसकी हालत देखि और उसे बोले : लगता है तुम्हे नींद आ रही है ..एक काम करो ..थोड़ी देर सो जाओ ..तुम्हे अच्छा लगेगा ...

ओह्ह्ह तेरी माँ की चूत ....ये क्या हो गया ..गिरधर ने अपना सर पीट लिया ..ये क्या निकल गया उसके मुंह से ..रितु का नाम ..और वो भी उसके सामने ..और वो भी माधवी को चोदते हुए . और अपनी कच्छी दिखाते हुए कमला के चेहरे पर कोई शिकन या शर्म के भाव भी नहीं थे ..वो बिलकुल नार्मल थी ..पंडित समझ गया की जवानी की दहलीज पर कदम रख चुकी इस कुंवारी चूत का उद्धार भी उपरवाला उसके हाथों से करवाना चाहता है ..

उसने नीचे सर झुका के काम कर रही काउनसेलर को देखा & तेज़ी से वाहा से कॅबिन की ओर बढ़ी,रंभा!,काउनसेलर कुर्सी से उठा के जब तक उस तक पहुँचती वो कॅबिन मे दाखिल हो चुकी थी. बीएफ बिहारी हिंदी साहिल जाकर दरवाज़े के बिल्कुल सामने खड़ा हो गया और हॅरी आंड करण दोनो तरफ थोड़ा साइड में होकर खड़े हो गये. साहिल ने बेल बजाई.

देवर भाभी की बीएफ

  1. और जैसे ही सुलेमान को एहसास हुआ की उसके लंड का पानी निकलने वाला है , उसने फिर से नूरी को सोफे पर लिटाया और उसके सेक्सी चेहरे की तरफ देखते हुए अपने लंड को मसलने लगा ...और देखते ही देखते, उसके लंड की पिचकारियाँ नूरी की छाती और चेहरे पर पड़ने लगी ...
  2. मेडम..,थानेदार उसके पास आके बैठ गया,..आपके ससुर के कमरे के बाल्कनी के दरवाज़े का काँच टूटा हुआ है.वो आदमी वही से घुसा था लेकिन सवाल ये है की उस वक़्त आपके ससुर कहा थे?,रंभा का दिल धड़क उठा..यानी की वो तब घुसा था जब वो विजयंत से चुद रही थी..कही उसने उन दोनो की चुदाई तो नही देख ली थी! साउथ इंडियन ब्लू सेक्सी
  3. उसकी चूत के अन्दर उसका और पंडित का मिला जुला रस था ..जो सीधा इरफ़ान के मुंह में जाने लगा ..पर उसे शायद उसका एहसास भी नहीं हुआ .. इससे पहले कि वो मुझे देखे ,मुझे यहाँ से भाग जाना चाहिए…बस यही एक ख्याल था कि मैं हबीब चाचा को खिचते हुए ड्रेसिंग रूम की ओर चल दी…साड़ी पहन कर बाहर निकली और होटेल के लिए निकल पड़ी…रास्ते मे मैने हबीब चाचा से तबीयत ना ठीक होने का बहाना बना दिया..
  4. बीएफ बिहारी हिंदी...-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- रितु इसलिए की वो शायद किसी और के सामने या साथ में अपने सवालों का जवाब नहीं चाहती थी ..और पंडित जी शीला के साथ ये सब बातें कैसे करेंगे उसे ये समझने में काफी परेशानी हो रही थी ..
  5. ..समझने की कोशिश करो,डार्लिंग अभी हम शादी नही कर सकते.डॅड की मौत से पहले ही कंपनी के स्टॉक्स पे असर पड़ा.अब मानपुर वाला टेंडर अभी भरा है.ऐसे मे उसे तलाक़ दे तुमसे शादी करूँगा तो 1 स्कॅंडल तो होगा ही & ये बात ग्रूप के लिए & नुकसानदेह होगी.फिर इतनी जल्दी तलाक़ मिलेगा भी नही. पंडित जी ने अपने हाथ ऊपर किये और उसके दोनों खरबूजे अपने हाथों में पकड़कर मसल डाले और जोर-२ से धक्के मारकर उसकी चूत मारने लगे ...

सेक्सी फिल्म मूवी सेक्सी फिल्म

अन्दर इरफ़ान एक कोने में बने हुए चबूतरे पर बैठा हुआ था , जहाँ से पीछे की तरफ की खायी साफ़ दिखाई दे रही थी ..दूर -2 तक सिर्फ जंगल और पेड़ ही थे ..उसने एक पत्थर की बेंच को साफ़ सुथरा करके उसे चोदने के लिए सजा सा लिया था .

और दस दिनों की मेहनत बाद आखिरकार प्रियंका को पंडित जी मिल ही गए ..और उसने उन्हें इमोशनल करके अपने साथ कर लिया .. रंभा..प्लीज़..समझने की कोशिश करो..वो बहुत परेशान थी & हम दोनो जज़्बातों मे बह गये थे..ग़लती हो गयी मुझसे..आइ’म सॉरी!,रंभा अपनी अलमारी से कपड़े निकाल के सूटकेस मे भर रही थी.

बीएफ बिहारी हिंदी,पंडित ने उसके कुर्ते को पकड़ कर ऊपर खींचा, शीला ने अपनी बाहें ऊपर करके पंडित की मदद की ..और अब वो सिर्फ ब्रा और सलवार में उनकी गोद में बैठी हुई थी ...

अपनी तारीफ सुनकर रितु शरमा गयी ..पिंक कलर की टी शर्ट पहनी हुई थी और खुले बालों में वो क़यामत लग रही थी ..

नूरी भी दम साधे पंडित के द्वारा अपनी चूत के निगले जाने की प्रतीक्षा कर रही थी ...उसकी चूत की परतें पूरी तरह से अपने ही रस में डूब कर गीली हो चुकी थी ..जैसे फूल के ऊपर ओस की बूंदे .भोजपुरी एक्टर सेक्सी वीडियो

पंडित : अब मेरी बात ध्यान से सुनो ..पहले तुम्हे माधवी को ये विशवास दिलाना होगा की तुम अब से वही करोगे जो उसे पसंद है ..और कुछ दिनों के लिए तुम्हे ये शराब भी छोडनी होगी ..बोलो मंजूर है .. रेहान-नही रीत मुझे किसी काम से जाना है जल्दी. ओके बाइ. कूटी अपनी दीदी को दूध में हल्दी ज़रूर पिला देना.

कोमल का पूरा शरीर झन्ना उठा , उसके शरीर पर किसी ने पहली बार अपने होंठ लगाए थे ..पर वो इतने गंदे और गलत इंसान के होंगे ये उसने नहीं सोचा था, वो लगभग चिल्ला उठी ..

पंडित जी मन ही मन मुस्कुराने लगे ..उन्हें कोमल को पटाने का आईडिया मिल चुका था ..और वो बाहर निकल आये और कोमल की तरफ चल दिए ..,बीएफ बिहारी हिंदी पंडित जी की आवाज सुनते ही कोमल ने पलटकर देखा ..और पंडित जी को अपने सामने देखकर उसके चेहरे का रंग पीला पड़ गया ..उसे तो शायद आशा भी नहीं थी की इस शहर में कोई उसे पहचान लेगा ..वो हडबडा उठी .

News